arthritis treatment in hindi arthritis knee treatment Injections inflammation

क्या है गठिया (Arthritis) का दर्द ?

जोड़ो में होने वाली सूजन और दर्द से जुड़े रोग को गठिया (Arthritis) कहते है। इस तरह की समस्या लोगो में 50 की उम्र के बाद पाया जाता है।

जो उनके हड्डियों में यूरिक एसिड जमा होने के कारण होता है, क्योकि हड्डियों में जमा यूरिक एसिड गठिया का रूप ले लेता है और जब रोगी ज्यादा देर तक कही बैठ जाता है या सो जाता है, तो फिर उन्हें अचानक उठने में तकलीफ होती है।

गठिया के वजह से उनके जोड़ो में दर्द, अकड़न और सूजन हो जाती है, जो उनके सीधी-साधी सरल जिंदगी को पीड़ादायक बना देती है। क्योकि अगर गठिया की समस्या ज्यादा बढ़ जाती है तो समय के साथ चलने फिरने में भी काफी दिक्कत होने लगती है।

गठिया का दर्द रोगियों को नियमित दवा सेवन का आदि तो बना ही देता है, लेकिन फिर भी रोगी अपने में कोई खास सुधार नहीं देखते है। जबकि प्राकृतिक पद्दति और जैविक औषिधि से गठिया का इलाज संभव है, क्योकि गठिया से पीड़ित लोगो पर ये विकल्प बहुत ही कारगर साबित हुआ है।

गठिया (Arthritis) का दर्द और आम दर्द को कैसे पहचाने

दर्द एक एहसास है जो शरीर में होने वाली समस्याओं का संकेत देता है।दर्द के एहसास होने की दो वजह होती है, शरीर पर लगने वाली बाहरी चोट और शरीर में होने वाली आंतरिक समस्या।

दर्द मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है, पहला अल्पकालिक दर्द (Acute pain) और दूसरा दीर्घकालिक दर्द (Chronic Pain)।

दोनों ही दर्द के प्रकार है, अंतर बस इतना है की अल्पकालिक दर्द (Acute pain) एक निश्चित समय में शरीर में होने वाली समस्या के खत्म होने के साथ ही दूर हो जाता है।

जबकि दीर्घकालिक दर्द (Chronic Pain) में ऐसा नहीं होता है, दर्द लम्बे समय तक रहने के साथ बार-बार वापस से होता ही रहता है, जिससे लोगो का सामान्य जीवन प्रभावित व पीड़ादायक हो जाता है। गठिया (Arthritis) का दर्द उसी में से एक है।

गठिया (Arthritis) के दर्द का इलाज

ऐसे बहुत सारे रोग है जिसका इलाज महंगी दवा और बड़े – बड़े सर्जरी से संभव नहीं हो पाता है, लेकिन प्रकृति में मौजूद जैविक औषिधि सभी प्रकार के बीमारियों से लड़ने में सक्षम है।

क्योकि औषिधियो से होने वाले उपचार असरदार होने के साथ – साथ प्राचीन और प्रमाणित भी है, और जैविक औषिधि ही हर तरह के इलाज की दवा का आधार है।

इसी कड़ी में बगदरा फार्म एक ऐसी अनोखी संस्था है जो प्राकृतिक तरह से उपजाए गए जैविक औषिधि से अलग – अलग बीमारियों के उपचार के लिए उत्पाद तैयार करती है और बगदरा फार्म के पास गठिया जैसे बीमारी के इलाज के लिए भी एक खास जैविक उत्पाद मौजूद है, जिसका नाम CALMYA है।

बगदरा फार्म का जैविक उत्पाद CALMYA प्राकृतिक तरीके से तैयार किया गया है, जो बिना किसी दुष्प्रभाव के चोट और बीमारियों से होने वाले दर्द को नियंत्रित करने में सक्षम है।

खासकर CALMYA गठिया से होने वाले दर्द के निजात में रामबाण का काम करता है। CALMYA के अंदर खास जैविक औषधि करक्यूमिन मौजूद है, जिसका दर्दनिवारक और सूजनरोधी चिकित्सीय गुण हर तरह के सूजन और दर्द से लड़ने में सक्षम है।

गठिया के रोग का उपचार
Arthritis गठिया के रोग से दिलाएगा निजात

CALMYA में मौजूद ये गुण गठिया से दिलाएगा निजात

• CALMYA एक दर्दनिवारक उत्पाद है जिसमे दर्दरोधी गुण मौजूद है, जो बिना किसी दुष्प्रभाव के हड्डियों में होने वाले कठोरता को कम करता है।

• CALMYA में सूक्ष्मजीवरोधी गुण होने के कारण, ये सूक्ष्मजीवों से होने वाले संक्रमण को भी रोकता है।

• CALMYA न सिर्फ सूजन और दर्द को कम करता है बल्कि ये गठियारोधी दवाओं के दुष्प्रभाव को भी दूर करता है।

• CALMYA में सूजनरोधी गुण भी मौजूद है जो अलग-अलग कारणों से होने वाले सूजन के दर्द को भी कम करता है।

• अपने ऑक्सीडेंट-रोधी गुण से CALMYA शरीर में होने वाले सभी प्रकार के ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है।

• CALMYA rheumatoid-गठिया के इलाज के लिए सबसे अच्छा उपचार है, इसके साथ ही सूजन को कम और गठिया को दूसरे जोड़ो तक पहुंचने से रोकता है।

• CALMYA से समग्र शरीर के गतिविधि संचालन में सुधार आता है।

इस तरह करना है CALMYA का सेवन

CALMYA का सेवन करना बहुत ही आसान है। जिसके लिए आप 200 से 250 ml यानि 2 कप पानी में आधी छोटी चम्मच CALMYA डाले, उसके साथ ही एक चुटकी काली मिर्च मिला तब तक उबाले, जब तक की वो एक कप के बराबर न हो जाये (नोट: 6 से 9 साल के बच्चो के लिए, छोटी चम्मच का एक चौथाई CALMYA डाले),

उसके बाद उसे कप में निकाल आधा चम्मच शहद और निम्बू की कुछ बुँदे मिला ले , फिर सिप-सिप कर के पिए। याद रहे इस ड्रिंक को गट-गट कर के नहीं पीना है बल्कि आराम से एक सिप ले कम से कम 20-30 सेकंड अपने मुंह में रखे फिर गटके।

बेहतर रिजल्ट के लिए CALMYA का सेवन इसी तरह दिन में दो बार करना है, सुबह खाली पेट नास्ता से लगभग २ घंटे पहले और शाम को खाने के २ घंटे बाद।

ऑनलाइन करे CALMYA आर्डर

आप बगदरा फार्म की वेबसाइट bagdarafarms.com पर जाकर प्रोडक्ट सेक्शन से CALMYA आर्डर कर सकते है या हमे +91 9560254646 सम्पर्क कर प्रोडक्ट आर्डर करवा सकते है, साथ ही उसके बारे में जानकारी भी ले सकते है।

नोट : हमारा उत्पाद केवल हमारे वेबसाइट bagdarafarms.com पर ही उपलब्ध है अन्य किसी वेबसाइट पर हमारा उत्पाद नहीं मिलता है।

Refer a Patient to Bagdara Farms Health System

Friends, your patients will be in good hands with our expert teams. We always work closely with referring friends to provide the best possible care for all patients, from routine care to more complex or life-threatening medical conditions.

Contact us today and we’ll make the connection as soon as possible.

Two doctors having a discussion, with a stethoscope on a table.

Please fill out this referral form to make an appointment for your patient.